नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 9695646163 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें.
September 30, 2022

Raftaar India news

No.1 news portal of India

पनियरा में धड़ल्ले से संचालित हो रहे अवैध पैथलाजी सेंटर

1 min read

महराजगंज- जनपद के पनियरा विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत नगर पंचायत पनियरा में इन दिनों खूब अवैध स्वास्थ्य सेवाएं संचालित हो रहे हैं ,जो आम आदमियों के गाढ़ी कमाई को जोंक की तरह चूसने का काम कर रहे हैं और भांति भांति तरीके से गरीब मरीजों को बहला-फुसलाकर और अपने झांसे में लेकर मनमाना पैसा ऐठते हुए दिन दूनी रात चौगुनी वृद्धि कर रहे हैं ! वही जिला प्रशासन द्वारा जिस किसी दिन भी ऐसे अवैध हॉस्पिटल, पैथोलॉजी और मेडिकल स्टोर पर कार्यवाही होनी रहती है अवैध रूप से संचालित करने वाले संचालकों को पहले ही भनक लग जाती है ! जिससे यह अपने आप में सतर्क हो जाते हैं या फिर अपनी स्वास्थ्य सेवाओं को शटर बंद करके फरार हो जाते हैं ! और फिर जब कार्यवाही समाप्त हो जाती है तो अपनी धन उगाही की प्रक्रिया को पुनः प्रारंभ कर लेते हैं ! ऐसे में इस क्षेत्र के जनता के साथ स्वास्थ्य विभाग की मिलीभगत से एक बड़ा खेल खेला जा रहा है !
मजेदार बात तो यह है कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पनियरा से महज कुछ ही दूरियों पर स्थापित ये अवैध केंद्र धड़ल्ले से संचालित हो रहे हैं पर इन पर कार्यवाही के नाम पर कुछ नहीं होता !अभी हाल के दिनों में स्वास्थ्य विभाग के मंडल टीम द्वारा छापेमारी करते हुए अवैध रूप से संचालित ज्योतिमां हॉस्पिटल में अल्ट्रासाउंड के साथ-साथ भारी मात्रा में सरकारी दवाओं का जखीरा मिला था , और उस हास्पिटल को सीज भी किया जा चुका है परंतु फिर भी ऐसे अवैध संचालकों के मन में कोई डर नाम की चीज ही नहीं है ! और जनता की जेबों को लूटने के कार्यों में लगे हुए हैं !
सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार पनियरा नगर पंचायत में कई अवैध हॉस्पिटल अल्ट्रासाउंड सेंटर, पैथोलॉजी सेंटर और मेडिकल स्टोर संचालित हैं जिन पर विभाग द्वारा किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की जा रही है ! ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि शायद इन अवैध संचालकों का जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग से अच्छी पकड़ के चलते इन पर कार्यवाही नहीं हो रही है! और जब कभी बड़ी घटनाएं हो जाती हैं उस समय खाना पूर्ति करते हुए मामले को ठण्डे बस्ते में डाल दिया जाता है! फिर जस का तस अवैध कार्य शुरू हो जाता है!
एक तरफ केंद्र और प्रदेश की सरकारें बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए नित नई नई स्कीम के साथ लोगों को स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां दे रही हैं वही स्थानीय स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का नतीजा है कि आम जनता को अवैध स्वास्थ्य कारोबारी ठगने का काम बेरोकटोक किया जा रहा है!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 8920664806