नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 9695646163 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें.
September 30, 2022

Raftaar India news

No.1 news portal of India

भ्रष्टाचार में अधिकारी हुए मस्त,मनरेगा मजदूर हुए त्रस्त-

1 min read

रफ्तार इंडिया न्यूज़-महराजगंज-
रिपोर्ट-गुरुचरण-प्रजापति-महराजगंज-यूपी-
भारतीय किसान यूनियन के जिला महासचिव रामअशीष द्वारा आज जनपद मुख्यालय महराजगंज में पनियरा क्षेत्र के गोनहा ग्राम सभा के मजदूरों का मनरेगा में पैसा न मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं संग जिला अधिकारी को सौंपा ज्ञापन-

जिला महासचिव रामअशीष ने रफ्तार इंडिया न्यूज़ सम्वाददाता से दूरभाष के माध्यम से बताया कि सरकार की मंशा के अनुरूप ब्लॉक के वीडियो,सेक्रेटरी,पंचायत मित्र,ग्राम प्रधान द्वारा भ्रष्टाचार कर धन का बंदरबांट करने में मस्त हैं वही किसानों की मजदूरी ना मिलने से भारतीय किसान यूनियन के लोगों में काफी आक्रोश व्याप्त है.
जिसको लेकर भारतीय किसान यूनियन के जिला महासचिव ने आज शुक्रवार को जनपद मुख्यालय पर 7 सूत्री मांग जिलाधकारी महराजगंज को सौंपा और समय से मजदूरों की मजदूरी ना मिलने पर आंदोलन करने की भी बात कही-

क्षेत्र के किसानों की विभिन्न जनसमस्याओं को लेकर जनपद मुख्यालय महराजगंज पर भारतीय किसान यूनियन की पंचायत लगाते हुये जनहित में निम्न माँगे अधिकारियों से लगातार की जा रही है।

1-विकास खण्ड पनियरा,जनपद महराजगंज अन्तर्गत ग्रामसभा-गोनहा के लगभग पचासों किसानों से नरेगा मजदूरी माह जून 2021 से फरवरी 2022 तक कई चरणों में लगभग आठ-नौ माह तक ग्राम पंचायत गोनहा में नरेगा कार्य कठहवा पुल से कटहल चौरहा तक,प्राथमिक विद्यालय,रसोई घर निर्माण,नाली,इण्टर लांकिग,कच्ची सड़क आदि जगहों पर कार्य कराया गया परन्तु आज तक पैसे का भुगतान नहीं किया गया। नरेगा मजदूर बैंक एवं ब्लाक अधिकारियों के चक्कर लगाते-लगाते थक गये है। जिसमें दर्जनों भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ता काम किये है। सरकारी धन का दुरूपयोग कर बन्दर बांट किया गया है जिसमें ग्राम प्रधान,सिकेटरी,पंचायत मित्र की भूमिका संदिग्ध है जिसकी तत्काल जांच कराकर मजदूरी दिलाया जाय तथा दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही की भारतीय किसान यूनियन मांग की है-

2-ग्राम पंचायत गोनहा में नरेगा कार्य में बड़े पैमाने पर घोटाला किया गया है। अपने चहेते में बीना कार्य किये लोगों के खातों में भी नरेगा मजदूरी भेजे जाने का गंभीर आरोप लगा है जो कि घर पर मौजूद नहीं है अन्य प्रदेश में कार्य करते है और धन का बन्दरबांट किया गया है और जो कार्य किये है उनके खाते में पैसा नहीं भेजा गया है जिससे नरेगा मजदूरों में काफी आकोश व्याप्त है। जिसकी जांच कमेटी गठित कर तथा नरेगा मजदूरों का बयान दर्ज कराकर संलिप्त लोगों के विरूद्ध कार्यवाही की जाय।
3-यह कि ब्लाक पनियरा में लम्बे समय से कार्यरत/तैनात पंचायत राज विभाग के अधिकांश अधिकारी,कर्मचारी अपनी राजनैतिक पहुंच से लम्बे समय से जमे है जिसकी जांचकर स्थानान्तरण अन्यत्र ब्लाक में किया जाय जिससे सरकारी धनों के लूट खसोट पर रोक लग सकें।

4-यह कि विकास खण्ड पनियरा के ग्राम पंचायत मुजुरी में काली मन्दिर मार्ग को आर०सी०सी० सड़क अथवा इण्टर लांकिग तत्काल करवाया जाय।

5 यह कि सिंचाई डाक बंगला मुजुरी,सिंचाई खण्ड प्रथम जो कि जनपद स्तर का जाना-माना सिंचाई डाक बंगला है जिस डाक बंगले में अधिकारी,मंत्री प्रशासनिक अधिकारियों का आना जाना लगा रहता है परन्तु काफी समय से खण्डहर में तब्दील है। जिसकी मरम्मत और सुन्दरीकरण कराकर रख-रखाव हेतु कर्मचारी अधिकारियों की तैनाती करायी जाय-

6-यह कि विकास खण्ड पनियरा अन्तर्गत विजली विभाग द्वारा बड़े पैमाने पर विद्युत कटौती की जा रही है। शासन के अनुसार उपभोक्ताओं को विजली उपलब्ध नहीं करायी जा रही है। भीषण गर्मी से लोग बेहाल है भरपूर बिजली शासन के मंशा के अनुरूप दिलायी जाय-

7-यह कि पनियरा ब्लाक पर समय से किसानों के लिये धान बीज उपलब्ध करायी जाय-

उपरोक्त मांगों को पूर्ण करना जनहित में अतिआवश्यक एवं न्याय संगत होगा माँगे एक सप्ताह में पूर्ण न होने पर भारतीय किसान यूनियन विवश होकर धरना प्रदर्शन/आन्दोलन करने को बाध्य होगा। जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन/प्रशासन की होगी-
वही इस संबंध में रफ़्तार इंडिया न्यूज़ सम्वाददाता द्वारा दुरभाष के माध्यम खंड विकास अधिकारी पनियरा डॉ.सुशांत सिंह से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच कमेटी टीम का गठन किया गया है मस्ट्रोल एवं अन्य अन्य आरोपों को जल्द से जल्द जांच कराकर मनरेगा मजदूरों की मज़दूरी दिलाई जाएगी और इस मामले में संलिप्त दोषियों के ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्यवाही भी कराई जाएगी.
सिग्रेटरी-गोनहा से पुछेजाने पर हमारे सम्वाददाता को बताया कि इसपुरे मामले में ग्राम प्रधान को कड़ी चेतावनी दे दिया गया है ग्रामप्रधान द्वारा चार दिनों में मनरेगा मजदूरों की मज़दूरी दिलाने की बात कही गई है-
इस मामले में ग्रामप्रधान गोनहा एवं पंचायत मित्र से बात करने पर इस पूरे मामले में गोलमटोल बात कर मामले को टालते नजऱ आए-
अब देखना यह दिलचस्प होगा की मजदूरों की मज़दूरी मिलेगा या जांच जांच के आदेशों का विकाश के पन्नों में दवा रह जाएगा-

रफ्तार इंडिया न्यूज़-महराजगंज-

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 8920664806