नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 9695646163 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें.
September 30, 2022

Raftaar India news

No.1 news portal of India

अवैध हास्पिटल में झोलाछाप डॉक्टरों द्वारा ऑपरेशन के बाद जच्चे-बच्चे की मौक़े पर ही मौत,

1 min read

महराजगंज-पनियरा-अवैध हास्पिटल में झोलाछाप डॉक्टरों द्वारा ऑपरेशन के बाद जच्चे-बच्चे की मौत,
हास्पिटल संचालक के बहकावे में आकर परिजनों ने मेडीसीटी हॉस्पिटल पनियरा में किया भर्ती-
फर्जी अस्पतालों पर होगी कड़ी कार्रवाई-एसीएमओ




पूरे जिले में अप्रशिक्षित चिकित्सकों की भरमार है जो आए दिन धन और जन को क्षति पहुंचा रहे हैं-
गौरतलब है कि पनियरा संचालित एक निजी अस्पताल के डॉक्टरों की लापरवाही से जच्चा-बच्चा की मौत हो गई। जिसपर गुस्साए परिजनों ने जमकर हंगामा किया। वहीं हंगामा होता देख अस्पताल के डॉक्टर व महिला स्टॉफ फ़रार हो गए। परिजनों की सूचना पर पहुंची पनियरा पुलिस ने समझा-बुझाकर कर किसी तरह से परिजनों को शांत किया व महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया। उधर,मृतका के पति ने पुलिस को तहरीर दे दी है,हालांकि अभी पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया है-

पनियरा थाना क्षेत्र में नर्सिंग होम में गलत ऑपरेशन के कारण जच्चा-बच्चा दोनों की शनिवार की देर रात में मौत हो गई.रफ्तार इण्डिया न्यूज़ संवाददाता से अपर सीएमओ डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि यह मेडीसिटी हॉस्पिटल बिना लाइसेंस के अवैध रूप से संचालित हो रहा था और स्टाफ फरार हैं-

नगर पंचायत पनियरा जगह-जगह खुले फर्जी नर्सिंग होम किस तरह से गरीबों से मोटी रकम वसूल लोगों की जान ले रहा है-
नगर पंचायत पनियरा में अवैध रूप से संचालित हास्पिटल में गलत ऑपरेशन के कारण जच्चा-बच्चा दोनों की मौक़े पर ही मौत हो गई.
इसकी ताजा तस्वीर पनियरा थाना क्षेत्र के पनियरा नगर पंचायत के बसडिला में देखने को मिली.जहाँ स्वास्थ्य विभाग मेडीसिटी हास्पिटल पर आरोप है कि इसने गर्भवती महिला का प्रसव के लिए प्रैक्टिसनर के सहारे गलत ऑपरेशन कर दिया जिससे जच्चा-बच्चा दोनों की दर्दनाक मौत हो गई.
मामला तूल पकड़ने पर हास्पिटल संचालक और स्टॉप फरार हो गए-

ऐसा ही एक मामला कुछ दिन पहले ही मेडीसीटी हॉस्पिटल के ठीक सामने स्थित एक निजी अस्पताल का भी फ़र्ज़ी रिपोर्ट बिना समझे-बुझे फ़र्ज़ी तरोकों से ईलाज व खून,पेशाब,अल्ट्रासाउंड जांच मोटी रकम वसूल कर रहा है-
और स्वास्थ्य विभाग के कुछ होनहारों द्वारा मिली भगत से किसी तरह की कार्यवाही नही हो रही है-
पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने कड़ी कार्यवाही का आश्वाशन देकर हास्पिटल के ओटी सील कर आगे की कार्रवाई कर रही है।

मायके में आयी महिला को ग्राम सभा बांकी टुकड़ा नंबर 14 की आशा से हमारे संवाददाता से पूछे जाने पर बताई कि प्रसव पीड़ा शुरू होने पर मायके के लोग प्राथमिक स्वास्थ्य पनियरा केंद्र ले आए थे-

ग्राम सभा के बांकी टुकड़ा नम्बर 14 गांव दमरीगिरी की गर्भवती मेडीसिटी हास्पिटल के संचालकों ने अच्छा ईलाज कराने की बात कह कर बहला-फुसला कर अपने यहां भर्ती करवा लिए.
परिजनों का कहना है कि सरकारी अस्पताल में मौजूद कुछ लोगों ने प्राइवेट हॉस्पिटल में अच्छे इलाज का आश्वासन दिया था.उनकी बातों में आने के बाद मेडीसीटी हॉस्पिटल में भर्ती करवा दिया गया-

और नक़द रुपए जमा कराकर ऑपरेशन शुरू किया गया
ऑपरेशन के बाद जब-बच्चा की हालत बिगड़ते देख मेडीसीटी हॉस्पिटल के फ़र्ज़ी डॉक्टरों ने बाहर ले जाने की बात कही.जैसे ही वह बाहर लेकर निकले तो बच्चे की मौत हो गई.
ऑपरेशन के बाद बच्चे की मौत के बाद महिला की अधिक खून स्राव हो जाने के कारण हालत बिगड़ गई जिससे कुछ ही देर बाद महिला की भी दर्दनाक मौत हो गई-
यह देख हास्पिटल स्टाफ आनन-फानन में फरार हो गए.नाराज परिजनों ने जच्चा-बच्चा लिए रोते बिलखते विरोध करना शुरू कर दिया-

अवैध हास्पिटल स्थल पर पहुंचे,महराजगंज एसीएमओ राजेन्द्र प्रसाद ने रफ़्तार इंडिया न्यूज़ सम्वाददाता से बताया कि ऑपरेशन के दौरान मां और शिशु दोनों की मृत्यु हुई है।.अवैध संचालित हास्पिटल की पूरी जांच होगी.पूरा प्रशासन व स्वास्थ्य परिवार के साथ है.पनियरा थाना क्षेत्र में जिन-जिन अस्पतालों की हमें सूचना मिलेगी,सबकी जांच होगी,किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा.।

अब देखना अब दिलचस्प होगा कि अपर सीएमओं के बातों में कितनी सच्चाई है कि सिर्फ़ आव मिलीभगत से ही मामला सलटा दिया जाता है या कर्यवाई की जाती है-?


Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright ©2021 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 8920664806